Saturday, 5 November 2016

Lyric: खो जाने दे..! // Kho jaaney De..!



Kho Jaane De..!! खो जाने दे..!!

Aaj Mujhe Tu, Apni Goad Mein..Sar Rakh Ke, 
Kuch Pal Ke Liye..Yun Kho Jaaney De....!

आज मुझे तू, अपनी गोद में.. सर रख के, कुछ पल के लिए.. यूँ खो जाने दे...!

Ek Pal Ke Liye Sahi, Har Lmha Madhosh..Yun Ho Janey De...!

एक पल के लिए सही, हर लम्हा मदहोश..यूँ हो जाने दे..!!

Jis Tarah Badalon Mein,  Chhup Jata Hai Chaand...
Aaj Apni Zulfon mein, Mujhe Bhi Gum.. Yun Ho Jaaney De...!

जिस तरह बादलों में, छुप जाता है चाँद..आज अपनी ज़ुल्फ़ों में, मुझे भी गुम.. 
यूँ हो जाने दे..!!

Khushnuma mausam mein, Iski Ranginiyat mein,
Apni Saanson Ko, Meri Saanson Mein..
Yun Ghul Jaaney De..!

खुशनुमा मौसम में, इसकी रंगीनियत में..
अपनी साँसों को, मेरी साँसों में..यूँ घुल जाने दे..!!

©Abhilekh
#Abhilekh



About Me

My photo
India
Complicated माहौल में simple सा बंदा हूँ। दूरियाँ तो जायज़ है फिर भी ऐसे हमेशा करीब हूँ। कुछ लिख कर, कुछ पढ़कर, सबसे कुछ सीख कर, अकेला ही सही, एक मंज़िल के लिए निकला हूँ।